नकली शराब की तस्करी के मामले में फरार चल रहे 25,000 के इनामी बदमाश गिरफतार

फरीदाबाद हरियाणा

वर्ष 2020 में नकली शराब पीने से 5 व्यक्तियों को हो गई थी मृत्यु

फरीदाबाद: 16 सितंबर, पुलिस आयुक्त विकास अरोङा के दिशानिर्देशो पर मोस्ट वांटेड की सफाई के लिए चलाए गए अभियान पर कार्यवाही करते हुये क्राईम ब्रान्च सैक्टर 17 प्रभारी इंस्पेक्टर संदीप मोर की टीम ने नकली शराब के मुकदमे में वांछित 25000 के इनामी मुख्य आरोपी अमित उर्फ अपला को देहरादून से गिरफतार करने में सफलता हासिल की है । आरोपी अमित उर्फ अपला करनाल के घरोन्डा का रहने वाला है जो नकली शराब बनाने के लिए फरीदाबाद में अपने साथियों को स्प्रिट मुहैया करवाता था। वर्ष 2020 में आरोपी अमित उर्फ अपला अपने साथी पलवल के रहने वाले धीरज के साथ मिलकर पलवल के गांव धतीर के खेतो में बनी डेयरी पर नकली शराब बनाता था।

अमित व उसका साथी धीरज गांव नरियाला व पन्हैडा में स्थित शराब के ठेके पर ठेकेदारो व सैल्समैन के साथ मिलीभगत करके उस नकली शराब को सस्ते रेटो में ठेके पर बेच देते थे। उस नकली शराब के जहरीली होने के कारण उस शराब को पीने से वर्ष 2020 में फरीदाबाद में 05 व्यक्तियों की मौत हो गई थी व काफी व्यक्ति गम्भीर हालत मे हस्पताल में भर्ती हुए जो ईलाज के बाद ठीक हो गये थे।आरोपी के खिलाफ फरीदाबाद के विभिन्न थानों में एक्साइज एक्ट, गैर इरादतन हत्या, षड्यंत्र रचने इत्यादि धाराओं के तहत 4 मुकदमे दर्ज हैं जिसमें थाना सदर बल्लबगढ़ के एक मुकदमे में आरोपी को वांटेड घोषित करके उसके ऊपर 25000 का इनाम रखा गया था। आरोपी अमित उर्फ अपला गिरफतारी से बचने के लिये काफी दिनो से घर से भागा हुआ था जिसको दिनांक 14 सितंबर को तकनीकी सहायता से देहरादून से गिरफतार किया गया।

इस मामले में पुलिस द्वारा आठ अन्य आरोपियों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है जिसमें आरोपी धीरज, जीतू, अजीत, अमित मलिक, राजेश, धर्मेंद्र, गौरव और विकास का नाम शामिल है। आरोपी अमित अपने साथी धीरज को नकली शराब बनाने के लिए स्प्रिट मुहैया करवाता था। आरोपी धीरज इस स्प्रिट को आगे जीतू तथा अजीत को सप्लाई करता था जो अवैध शराब बनाने का काम करते थे। नकली शराब बनाने के पश्चात आरोपी अजीत ठेकेदारों के साथ सांठगांठ करके नकली शराब को सस्ते रेटों पर ठेके पर बिकवा देता था।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपियों द्वारा सप्लाई की गई नकली शराब को पीकर फरीदाबाद में 5 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा और बहुत से लोग गंभीर रूप से बीमार हो गए। आरोपी के खिलाफ करनाल और पानीपत में नकली शराब के 7/8 मुकदमे दर्ज हैं जिनमें अरिष्ट हो चुका है इसके अलावा एक अन्य मुकदमा न० 213/ 2020 थाना सनौली पानीपत, जिसमें 4/5 व्यक्तियों की नकली शराब पीने से मृत्यु हो गई थी। इस मुकदमे में आरोपी की पत्नी एवं पुत्र को पानीपत पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। आरोपी इस मुकदमे में फरार चल रहा था आरोपी की गिरफ्तारी के संबंध में पानीपत पुलिस को सूचित किया जा रहा है। मामले में गहनता से पूछताछ के लिए आरोपी को अदालत में पेश करके 7 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है जिसमें आरोपी के अन्य साथियों के बारे में पूछताछ की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *