मनोज मागँरिया गैंग के नाम से 10 लाख की फिरौती माँगने वाले 2 आरोपी 24 घंटे में गिरफ्तार 

फरीदाबाद: 03 मई, गांव अजरोंदा के कारोबारी से मनोज मागँरिया गैंग के नाम पर 10 लाख की फिरौती मांगने के मामले का संज्ञान लेते हुए पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा ने डीसीपी क्राइम को मामले को जल्द से जल्द सुलझाने के आदेश दिए। डीसीपी क्राइम नरेन्द्र कादियान ने सभी क्राइम ब्रांचों को मामले पर तुरन्त कार्रवाई के आदेश दिए जिस पर कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच सेक्टर-17 प्रभारी इंस्पेक्टर अशोक कुमार की टीम ने फिरौती मांगने वाले मुख्य आरोपी सहित 2 आरोपियो को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी साहिल स्थाई रुप से राजस्थान का रहने वाला है। वर्तमान मे ओल्ड फरीदाबाद में रह रहा है। आरोपी जय प्रकाश पलवल के गांव चंदहट का रहने वाला है। क्राइम ब्रांच टीम ने आरोपी साहिल को गुप्त सूत्रों से प्राप्त सूचना के आधार पर आईएमटी एरिया से दोनो आरोपियों को थाना सैन्ट्रल के फिरौती मांगने के मुकदमें में गिरफ्तार किया है।पूछताछ में सामने आया कि आरोपी साहिल एनएचपीसी चौक पर स्थित स्कोडा कम्पनी के शोरूम मे अलोये व्हील व अलाईनमैंट का काम करता था। जिसका एक दोस्त अमन शिकायतकर्ता सचिन की दुकान पर अलोये व्हील का काम करता था। अधिक काम होने पर आरोपी साहिल को भी काम के लिए बुलाते थे। आरोपी को पता चला की शिकायतकर्ता को मुआवजे के पैसे मिले है। आरीपी ने पैसे के लालच में आकर शिकायकर्ता से 30 अप्रैल को रात के समय फोनकर मनोज मागँरिया गैंग के नाम से 10 लाख की फिरौती माँगी। आरोपी ने शिकायतकर्ता के पास पैसे के लिए कॉल की और पैसे के लिए धमकाया कि पैसे नही दोगे तो गोली से मार दी जायेगी। मुद्दई की शिकायत पर थाना सेंट्रल में मुकदमा दर्ज कर आरोपी की तलाश की जा रही थी।

समाचार एंव विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें 09818926364

मुकदमें की तफ्तीश क्राइम ब्रांच सेक्टर-17 को मिली जिसपर कार्रवाई करते हुए मुख्य आरोपी सहित दो आरोपी को मात्र 24 घंटे में गिरफ्तार कर मामले को सुलझाया है। आरोपियों को अदालत में पेशकर 2 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है पुलिस रिमांड के दौरान आरोपियों के इस बारे में गहनता से पूछताछ की जाएगी।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like