रोबोटिक्स और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर अटल ऑनलाइन एफडीपी

एमआरआईआईआऱएस के फैकल्टी ऑफ इंजीनियरिंग द्वारा आयोजत, 150 प्रतिभागियों ने लिया हिस्सा

फरीदाबाद: 16 दिसंबर, इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट विभाग और प्रौद्योगिकी संकाय, मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज द्वारा पांच दिवसीय रोबोटिक्स और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) पर अटल ऑनलाइन फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम (एफडीपी) आयोजित किया गया। अखिल भारतीय उद्योग और विभिन्न संस्थानों के लगभग 150 प्रतिभागियों ने एआईसीटीई पोर्टल के माध्यम से पंजीकरण कराया। इस दौरान कई IIT, NIT और उद्योग के प्रख्यात वक्ताओं ने अपनी विशेषज्ञता साझा की। प्रतिभागियों के ज्ञान को बढ़ाने और विषय की बेहतर समझ रखने के लिए रोबोट और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के डिजाइन और मॉडलिंग में व्यावहारिक सत्रों को भी शामिल किया गया है।  इस दौरान अनुभवी प्रशिक्षकों द्वारा मन साफ करने, तनाव कम करने और चिंता को दूर करने के लिए सहजयोग का एक सत्र भी आयोजित किया गया।

इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट एमएनआईटी जयपुर के प्रोफेसर डॉ. राजेश कुमार ने कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होंने आज की दुनिया में इस विषय की प्रासंगिकता के बारे में अवगत कराया। अगला सत्र डॉ. दीपांकर देब प्रोफेसर आई.आई.टी.आर.एम. अहमदाबाद ने लिया। उन्होंने भौतिक वितरण के लिए क्वाड्रोटर बाइप्लेन के अनुकूली बैकस्टेपिंग नियंत्रक डिजाइन के बारे में बताया। एक्सपर्ट्स मनोज गुप्ता और तरुण नागर ने रोबोटिक्स पर सत्र दिए। डॉ. मोनिका अग्रवाल, प्रोफेसर ,आईआईटी दिल्ली ने क्वांटम मशीन लर्निंग पर अपनी विशेषज्ञता साझा की।

समाचार एवं विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें 09818926364 या हमें ई-मेल करें [email protected] 

FDP में रोबोट डायनेमिक्स और किनेमेटिक्स, AI का उपयोग करके रोबोटिक्स के लिए प्रक्षेपवक्र अनुकूलन, इंटरनेट ऑफ थिंग्स, डायनेमिक सिस्टम के लिए मॉडलिंग और सिमुलेशन तकनीक, IoT, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के अनुप्रयोग, रोबोटिक मैनिपुलेटर्स के मॉडलिंग और नियंत्रण को भी शामिल किया जाएगा।

कार्यक्रम में एमआऱआईआईआरएस के रजिस्ट्रार आरके अरोड़ा, पीवीसी डॉ. प्रदीप कुमार, डॉ. अनीता खोसला, डॉ. गीता निझावन समेत फैकल्टी मेंबर्स शामिल हुए।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like