बहुजन समाज पार्टी ने सौम्या को आईएएस बनने पर दी बधाई

फ़रीदाबाद: 26 सितंबर, (पंकज अरोड़ा) जिला फरीदाबाद के गांव भुआपुर की बेटी सौम्या आनंद को बहुजन समाज पार्टी फरीदाबाद यूनिट के कार्यकर्ताओं ने यूपीएससी परीक्षा पास करने पर बधाई दी और फूलों से स्वागत किया। यूपीएससी परीक्षा में सौम्या आनंद ने 492 वीं रैंक प्राप्त की है । बसपा जिलाध्यक्ष मनोज चौधरी के नेतृत्व में समस्त कार्यकर्ताओं ने सौम्या के परिवार को बधाई दी बधाई देते हुए कहा कि बहुजन समाज की बेटी ने हरियाणा में ही नहीं पूरे देश में एस सी वर्ग का नाम रोशन कर दिया है। आज बेटियां शिक्षा के दम पर चांद को छू रही हैं, और पुरुषों से भी आगे निकल रही हैं।
इस अवसर पर जिला जौनपुर प्रभारी मुन्नीलाल दीपिया, सरदार उपकार सिंह, विधानसभा अध्यक्ष के एल गौतम, भूप सिंह चौहान, महावीर सिंह, राजपाल बौद्ध, रमेश कश्यप, राम गोपाल, मेहर चंद हरसाना, नंदकिशोर कंडेरे, डॉक्टर दीपक, निर्मल सिंह, भजन सिंह, हरभजन कौर, नीरज गौतम, राकेश तंवर सहित अनेक लोगों ने मौजूद रहे और बधाई दी।

समाचार एव विज्ञापन के लिए संपर्क करें 09818926364
इस अवसर पर जिला अध्यक्ष मनोज चौधरी ने कहा यदि आज महिलाएं पढ़ लिखकर समाज में ऊंचा मुकाम हासिल कर रही हैं, तो इसके पीछे केवल बाबा साहब डॉ अम्बेडकर और बहुजन समाज में जन्मे महापुरुषों के द्वारा किए गए समतामूलक समाज की स्थापना और शिक्षा के अधिकार की बदौलत है। अन्यथा इस देश में ऐसी मनुवादी व्यवस्था भी है जिसने धर्म की आड़ लेकर महिलाओं को केवल घर की चारदीवारी में बंद करने का काम किया था। यदि हमारे महापुरुषों ने समता समानता और महिला पुरुष को बराबर बनाने की बात न कही होती तो आज बहुजन समाज की बहन बेटियां पढ़ लिखकर उच्च अधिकारी नहीं बन पाती। इतना ही नहीं संविधान निर्माता बाबासाहेब ने तो हिंदू कोड बिल और शिक्षा में दिए गए अधिकारों के माध्यम से महिलाओं को पुरुषों के सामान लाकर खड़ा कर दिया है। उन्होंने कहा ठीक इसी विचारधारा पर चलते हुये बहन कुमारी मायावती ने भी उत्तर प्रदेश में चार बार मुख्यमंत्री बनकर यही काम करके दिखाया है। इस अवसर पर सौम्या के दादा तोताराम, पिता राजेंद्र सिंह, माता सुनीता आनंद, चाचा नरेंद्र कुमार, चाची सविता आनंद, चाचा सुंदर आनंद, चाची हर्षना, बहने प्रियंका, दर्शना एवं भाई वंश आनंद भी खुशी से गदगद दिखे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like