संत रविदास मंदिर को बचाने के लिये बसपा ने की पुल बनाने की मांग

बसपा की चेतावनी, संत रविदास मंदिर को बचाने का विकल्प तलाशे सरकार : मनोज चौधरी

फरीदाबाद: 15 दिसंबर, बहुजन समाज पार्टी जिला फरीदाबाद के कार्यकर्ताओं की आपात बैठक जिला अध्यक्ष मनोज चौधरी के नेतृत्व में आज हुई जिला कार्यलय एन एच 5 पर हुई। जिसमें निर्णय लिया गया यदि जिला प्रशासन ने खेड़ी पुल पास बाई पास रोड स्थित ऐतिहासिक संत रविदास मंदिर को तोड़ने की कोशिश की तो बहुजन समाज पार्टी के हजारों कार्यकर्ता सड़क पर उतरकर आंदोलन करेंगे। बैठक को संबोधित करते हुए जिला अध्यक्ष मनोज चौधरी ने भाजपा सरकार को चेतावनी देते हुए कहा यदि सरकार ने ऐतिहासिक संत रविदास मंदिर को बचाने के लिए जल्द कोई विकल्प नहीं निकाला, और मंदिर को बिना सहमति के तोड़ने का प्रयास किया तो बहुजन समाज पार्टी के हजारों कार्यकर्ता सड़क पर उतरकर आंदोलन करेंगे और सरकार के इस निर्णय का विरोध करेंगे।
उन्होंने कहा जिला फरीदाबाद के बाईपास रोड पर संत शिरोमणि रविदास जी का प्राचीन मंदिर लगभग 200 साल पुराना बना हुआ है। यह मंदिर फरीदाबाद के लाखों लोगों की आस्था का केंद्र है। जिला प्रशासन गलत मानसिकता को अपनाते हुए मनमाने तरीके से मन्दिर को तोड़ना चाहता है। श्री चौधरी ने कहा बसपा ने गत 22 अक्टूबर 2021 को लिखित मांग पत्र जिला उपायुक्त फरीदाबाद के माध्यम से महामहिम राष्ट्रपति भारत, महामहिम राज्यपाल हरियाणा एवं मुख्यमंत्री हरियाणा को भेजा था, और मंदिर को बचाने के लिए मांग की थी। इस मंदिर को किसी कीमत पर नहीं तोड़ने देगी।


उन्होंने कहा केंद्र सरकार की जो भी रोड की योजना है। हम उसका विरोध नहीं करते, मग़र जिस प्रकार फरीदाबाद बाई पास रोड के चौड़ीकरण के लिए फरीदाबाद के सेक्टर 8 और 9 के समाने बनी दुकानों और मकानों को बचाने के लिए कई फ्लाईओवर बनाए जा रहे हैं। उसी प्रकार खेड़ी चौक पर स्थित इस स्वामी माघनानन्द आश्रम संत रविदास मंदिर को बचाने के लिए भी एक फ्लाईओवर बनाया जाए।
हम बहुजन समाज पार्टी की तरफ से चेतावनी देते हैं, यदि इस मंदिर को जबरन तोड़ा गया तो फरीदाबाद के लाखों कार्यकर्ता और आमजन सड़क पर उतरकर इसका विरोध करेंगे।

समाचार एवं विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें 09818926364 या हमें ई-मेल करें [email protected] 
इस अवसर पर जिला जौन प्रभारी सरदार उपकार सिंह, मुन्नीलाल दीपिया, टीकम सिंह गौतम, नंदकिशोर कंडेरे, लक्ष्मण सिंह, रामवीर गोड़, गीता आलोक, विजय सिंह, नीरज कुमार, विपुल गौतम, बृजभूषण कर्दम, विजय नंबरदार, करण सिंह, डॉ राम सिंह, के एल गौतम, भूप सिंह चौहान, सिंह, राजपाल बौद्ध, विजयपाल, अशोक शास्त्री, विजय दूधोला, उदयचंद, लालमन प्रेम कुमार, भंवर सिंह, राकेश तंवर, कैलाश, सुनील कुमार, रमेश कश्यप, प्रेम सिंह राहत, जितेंद्र गौतम, जय सिंह, कर्ण बीवीएफ, उमेश गौतम, रोशन लाल, ममता सहित सैंकड़ो कार्यकर्ता मौजूद थे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like