नशामुक्ति अभियान: पुलिस ने आमजनों को दिलवाई नशा ना करने की शपथ

फरीदाबादः 26 जून, एंटी ड्रग-डे के अवसर पर पुलिस कमिश्नर ओ पी सिंह ने शहर में नशामुक्ति अभियान को सफल बनाने के लिए लोकहित में कुछ आवश्यक कदम उठाने कि बात साझा करते हुए बताया कि पहला, वैसे लोग जो नशाग्रस्त होकर अपना स्वास्थ बेकार कर चुके हैं, उन्हें कुशल चिकित्सकों के सहयोग द्वारा शारीरिक व मानसिक उपचार करा कर ठीक किया जा सकता है। दूसरे वे हैं, जिन्होंने अभी नशा करना शुरू किया है, वैसे लोगों को नशे के दुष्प्रभावों के बारे में बात कर जागरूक करने की आवश्यकता है। नशा मुक्त शहर के लिए पुलिस और सामाजिक संगठन के साथ आम नागरिकों को भी इस अभियान में भाग लेना चाहिए।

इस अवसर पर फरीदाबाद पुलिस की सभी ईकाईयों ने उत्साह के साथ फरीदाबाद को नशामुक्त शहर बनाने के लिए तरह-तरह के कार्यक्रम आयोजित करने के साथ लोगों को नशा नहीं करने की शपथ दिलाई। सेक्टर-8 थाना के पुलिसकर्मियों ने थाना प्रबंधक इंस्पेक्टर दिनेश तथा सेक्टर-11 थाना के प्रभारी सब-इंस्पेक्टर प्रदीप के नेतृत्व में नशामुक्ति अभियान को सफल बनाने के लिए अपने थाना क्षेत्र में स्थित बाटा मोड़, रामनगर, कृष्णा कॉलोनी, मिलहार्ड कॉलोनी तथा उनके आसपास झुग्गी बस्तियों में रहने वाले लोगों के बीच जाकर नशे का हानिकारक प्रभाव के बारे में विस्तार से बताते हुए समझाया।

इस दौरान लोगों को बताया गया कि शराब, गाँजा, स्मैक, अफीम, सुल्फा, खैनी, बीड़ी, गुटखा, सिगरेट इत्यादि के सेवन से हमारे शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता कम होने के साथ शरीर कैंसर जैसे खतरनाक बीमारी का शिकार हो जाता है। वहीं, क्राइम ब्रांच सेक्टर-30 ने विभिन्न स्थानों पर बैनर पोस्टर के माध्यम से व्यसन के प्रति जन सामान्य को सचेत करते हुए नशा से मुक्ति पाने का रूटीन वर्क बताया। क्राइम ब्रांच प्रभारी इंस्पेक्टर विमल राय ने कहा कि नशे की आदत लोगों को अपराध की ओर धकेलता है। इसीलिए आम जन खासकर युवाओं को नशीली वस्तुओं के सेवन से सख्त तौर पर बचना चाहिए। इसके अतिरिक्त सैनिक कॉलोनी पुलिस चौकी थाना सराय ख्वाजा थाना सूरजकुंड, थाना बीपीटीपी के अलावा अन्य पुलिस इकाइयों ने लोगों को नशे से दूर रखने के लिए उन को शपथ दिलाने का बेहतरीन कार्य किया है। पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह ने कहा कि नशा रोकने के लिए आम जनों को आगे आना चाहिए अपने आसपास के इलाकों में ध्यान रखना चाहिए अगर कोई भी उनके एरिया में नशा बेचने की कोशिश करता है तो इस संबंध में तुरंत पुलिस को सूचित करना चाहिए ताकि पुलिस ऐसे अपराधियों को सलाखों के पीछे पहुंचा सके और नव युवकों को इन चीजों से दूर रखा जा सके।

पुलिस उपायुक्त एनआईटी डॉ अंशु सिंगला ने एंटी ड्रग डे के अवसर पर कहा कि शहर को नशा मुक्त बनाने के लिए फरीदाबाद पुलिस दो तरह से काम करेगी पहला कि ड्रग्स लेने वालों को जागरूक किया जाएगा ताकि डिमांड की चेन तोड़ी जा सके, जब डिमांड ही नहीं रहेगी तो सप्लाई कहां की जाएगी, दूसरा सप्लाई को खत्म करने के लिए नशा तस्करों पर शिकंजा कसा जाएगा पुलिस नशा तस्करों की कमर तोड़ने के लिए उनकी प्रॉपर्टी भी केस में अटैच करेगी।

डॉ अंशु सिंगला ने कहा कि आज के दिन हमें अपने पूरे परिवार सहित बच्चों को कभी भी नशा ना करने की शपथ दिलानी चाहिए और नशे के दुष्परिणामों से बच्चों को अवगत कराना चाहिए।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like