जिला प्रशासन ने जिला बाल कल्याण अधिकारी कमलेश शास्त्री को किया सम्मानित।

गीता जयंती महोत्सव में उत्कृष्ट कार्यों के लिए किया गया कमलेश शास्त्री को सम्मानित।
फरीदाबाद: 15 दिसंबर,
हाल ही में संपन्न हुए गीता जयंती महोत्सव 2021 को पूरे प्रदेश भर में बड़ी धूमधाम से मनाया गया। पूरे प्रदेश में प्रत्येक जिले में जिला प्रशासन के द्वारा गीता जयंती महोत्सव 2021 को गीता श्लोकों के उच्चारण हवन यज्ञ, प्रभात फेरी व झांकियों आदि के माध्यम से श्रीमद्भगवद्गीता के महत्व व गीता सार को लोगों तक बड़ी आसानी से पहुंचाने का कार्य किया, जिससे लोगों के अंदर अधिक से अधिक जागरूकता फैलाई जा सके। वही हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद चंडीगढ़ की जिला शाखा फरीदाबाद ने भी बाल भवन में गीता जयंती महोत्सव 2021 को 12 दिसंबर से 14 दिसंबर तक बड़े ही हर्षोल्लास व धूमधाम से मनाया। जिला बाल कल्याण अधिकारी कमलेश शास्त्री की अध्यक्षता व देखरेख में तीन दिवसीय गीता जयंती महोत्सव 2021 के दौरान प्रत्येक दिन एनआईटी स्थित बाल भवन में गुरुकुल मंझावली के आचार्य जय कुमार के सानिध्य व सुमित शास्त्री के अगुवाई में बड़े ही हर्षोल्लास के साथ गीता श्लोकों के मंत्रोच्चारण के साथ हवन यज्ञ करके मनाया गया।
बच्चों के मानसिक विकास व अपनी संस्कृति से जुड़े रहने की सीख देने के लिए जिला बाल कल्याण अधिकारी, कमलेश शास्त्री को जिला प्रशासन की ओर से सम्मानित किया गया। गीता जयंती महोत्सव 2021 के समापन समारोह के दौरान गंगा शंकर मिश्र, ओल्ड फरीदाबाद से विधायक नरेंद्र गुप्ता, बड़खल विधायक सीमा त्रिखा, भाजपा के जिला अध्यक्ष गोपाल शर्मा, अतिरिक्त उपायुक्त सतवीर मान, गीता जयंती महोत्सव 2021 के नोडल अधिकारी व बल्लभगढ़ उपमंडल अधिकारी (ना०) त्रिलोकचंद, नगराधीश पुलकित मल्होत्रा, जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी राकेश गौतम, रेडक्रॉस सचिव विकास व अन्य गणमान्य लोगों ने अपनी गरिमामयी उपस्तिथि दर्ज करवाई। इन तीन दिवसीय गीता जयंती महोत्सव 2021 के उपलक्ष में जिला बाल कल्याण परिषद फरीदाबाद के द्वारा बच्चों में जागरूकता पैदा करने के लिए विभिन्न प्रतियोगिताओं का भी आयोजन किया गया। जिसमें श्रीमद्भागवत गीता से संबंधित प्रतियोगिताएं करवाई गई जैसे भाषण , रंगोली व पोस्टर मेकिंग, निबंध लेखन, श्लोक उच्चारण आदि प्रतियोगिताओं को शामिल किया गया। इन प्रतियोगिताओं में जिले के बच्चों ने बड़े ही जोश व उमंग के साथ हिस्सा लिया प्रतियोगिताओं में प्रथम द्वितीय तृतीय स्थान पर रहे विजेता बच्चों को जिला बाल कल्याण परिषद के द्वारा सर्टिफिकेट व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित भी किया।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like