पूर्व मंत्री विपुल गोयल ओर तिगांव विधायक राजेश नागर ने कार्यकर्ताओ संग देखी दादा लख्मीचंद फिल्म

फरीदाबाद: 23 नवंबर, पूर्व मंत्री विपुल गोयल ने क्षेत्र के कार्यकर्ताओ के साथ बैठकर हरियाणा की संस्कृति पर आधारित फिल्म दादा लख्मीचंद को सेक्टर 12 के एल्डिको मॉल मे आज 4 बजे का शो देखा। इस दौरान उनके साथ दादा लख्मी फिल्म के स्टार कलाकार हितेश शर्मा व उनके अन्य सहयोगी भी मौजूद रहे। आपको बतादें की पूर्व मंत्री द्वारा अपने लोगो के लिये फिल्म का पुरा शो बुक किया हुआ था।
इस कार्यक्रम के दौरान पत्रकारों द्वारा फिल्म के निशुल्क दिखाने के उद्देश्य पर पूछे गये सवाल का जवाब देते हुए पूर्व मंत्री विपुल गोयल ने कहा की हमारी हरियाणा की लोक संस्कृति पूरे विश्व मे पहचान रखती है ओर आज के इस बदलते युग मे संस्कृति को भी खतरा हो रहा है हमारा युवा जो देश का आने वाला कल है वो कहीं न कहीं हमारे रीति रिवाजो ओर संस्कृति को भूलता जा रहा है।  हमारी संस्कृति को जीवित रखने की कोशिश दादा लख्मी फिल्म के माध्यम से हमारे हरियाणवी कलाकारों द्वारा की गयी है बस इसी कोशिश को आगे बढ़ाते हुए ये फिल्म देखने का आज उद्देश्य था ताकि एक चैन बन सके ओर धीरे धीरे सब लोग जुड़कर् खासकर युवा वर्ग इस फिल्म को जरूर देखें ओर  दादा लख्मी के जीवन से कुछ ना कुछ प्रेरणा जरूर ले यही सभी से अपील भी है।
पूर्व मंत्री ने कहा की दादा लख्मी की यह फिल्म लोक कला व हरियाणा की संस्कृति को समेटे हुए है । पूर्व मंत्री ने फिल्म के सभी कलाकारो को बधाई देते हुए कहा की सभी ने मिलकर बहुत मेहनत की है ओर दादा लख्मी के जीवन को फिल्म के माध्यम से बताने का जो जीवंत प्रयास किया है वो बहुत ही सराहनीय है । पूर्व मंत्री विपुल गोयल ने फिल्म के पार्ट-2 के लिए सभी को अग्रिम बधाई भी दी।
आपको बतादें पूर्व मंत्री विपुल गोयल ने इससे पहले भी कश्मीर घाटी पर आधारित फिल्म कश्मीर फाइल्स को भी निशुल्क दिखाया था ओर हरियाणा की पहलवान छोरियो के ऊपर बनी फिल्म दंगल् के अलावा म्हारी छोरिया छोरो से कम है के जैसी फिल्मे भी लोगो को निशुल्क दिखाई थी।
पूर्व मंत्री ने कहा की हम सभी को दादा लख्मी के विचारों को अपने जीवन में उतारना चाहिए। पूर्व मंत्री विपुल गोयल ने फिल्म को टैक्स फ्री करने पर प्रदेश के मुख्यमंत्री का धन्यवाद करते हुए कहा की हरियाणवी फिल्मों को प्रमोट करने के लिए हरियाणा सरकार ने फिल्म पॉलिसी बनाई है। जिसके अंतर्गत आर्थिक सहायता व अन्य मदद भी दी जा रही हैं। हरियाणा के कलाकारों को बढ़ावा देने के लिए पंचकूला में फिल्म सिटी बनाई जा रही है, जो फिल्मकारों के लिए वरदान साबित होगी।
पूर्व मंत्री ने कहा की पंडित लखमी चंद हरियाणवी भाषा के एक प्रसिद्ध कवि व लोक कलाकार थे जिस कारण उन्हें “सूर्य-कवि” भी कहा जाता है ओर यही कारण है की आज समाज में घटित होने वाली बातों को दादा लख़्मी ने कई वर्षो पहले ही अपनी कविताओं के माध्यम से कह दिया था। इस दौरान उनके साथ तिगाँव से स्थानीय विधायक राजेश नागर व शहर के सैकड़ो गणमान्य लोग मौजूद रहे जिन्होंने दादा लख्मी फिल्म का आनंद लिया।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like