हवन यज्ञ के साथ किया गया गीता जयंती समापन समारोह का आयोजन

*गीता जयंती बाल महोत्सव प्रतियोगिताओं के विजेता बच्चों को किया गया पुरुष्कृत
*विश्व के सुप्रीम लीडर को उपहार स्वरूप भेंट कि जाने वाला एकमात्र ग्रंथ है गीता : कमलेश शास्त्री

फरीदाबाद: 15 दिसंबर, गीता जयंती के समापन समारोह के शुभ अवसर पर आज जना बाल कल्याण परिषद फरीदाबाद बाल भवन के प्रांगण में गीता श्लोकों के उच्चारण के साथ हवन यज्ञ का आयोजन किया गया। हवन यज्ञ गुरुकुल मंझावली के आचार्य जय कुमार के सानिध्य में आचार्य सुमित शास्त्री के द्वारा किया गया। इस अवसर पर समाजसेवी दिनेश भाटिया ने बतौर यजमान शिरकत की। गीता के श्लोकों के उच्चारण से बाल भवन का पूरा परिसर गुंजायमान हो गया। इस हवन यज्ञ समारोह की अध्यक्षता जिला बाल कल्याण अधिकारी कमलेश शास्त्री के द्वारा की गई।
इस अवसर पर हाल ही में संपन्न हुई गीता जयंती बाल प्रतियोगिताओं में प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पर रहे विजेता बच्चों को सर्टिफिकेट व स्मृति चिन्ह भेंट कर पुरस्कृत किया गया। समाजसेवी दिनेश भाटिया ने बच्चों को आशीर्वाद देते हुए भविष्य में एक लक्ष्य निर्धारित कर आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया।
बच्चों को संबोधित करते हुए जिला बाल कल्याण अधिकारी कमलेश शास्त्री ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव ना केवल देश प्रदेश में बल्कि पूरे विश्व में धूमधाम से मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि भागवत महापुराण गीता पूरे विश्व में मार्गदर्शक के रूप में कार्य कर रही है। भागवत गीता ना केवल एक पुस्तक है बल्कि चारों वेदों में वर्णित शब्दों का सार है। आज के दौर में भागवत गीता ही पूरे विश्व के सुप्रीम नेताओं को उपहार स्वरूप भेंट की जाती है। इसलिए गीता के सार को जीवन में अपनाकर अपने भविष्य की लक्ष्य की ओर आगे बढ़ना चाहिए।
इस अवसर पर बाल भवन के कार्यक्रम अधिकारी सुंदर लाल खत्री, सुप्रीडेंट मीनू, शिक्षा विभाग से सुशील कण्वा, प्रिया, गुरुकुल मंझावली के विद्यार्थी, बाल भवन का समस्त स्टाफ व अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like