मानव रचना में हैंड्स ऑन सोलर रूफ टॉप डिजाइन ट्रेनिंग

इलेक्ट्रॉनिक्स कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग के छात्रों को दी गई ट्रेनिंग,  सोलर पावर प्लांट के डिजाइन, इंस्टालेशन पर हुई चर्चा

फरीदाबाद: 15 नवंबर, मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज के ईसीई के छात्रों के लिए सेलर रूप टॉप डिजाइन ट्रेनिंग का आयोजन किया गया। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्देश्य सोलर रूफ टॉप डिजाइन पर व्यावहारिक प्रशिक्षण प्रदान करना था। इसमें  डिजाइन, स्थापना और कमीशनिंग, सुरक्षा उपायों को समझना और सौर ऊर्जा संयंत्र की स्थापना से संबंधित विभिन्न महत्वपूर्ण नीतियां शामिल रही। पांच दिवसीय इस कार्यक्रम में तीन दिन ऑनलाइन ट्रेनिंग दी गई उसके बाद कॉलेज कैंपस में दो दिवसीय हैंड्स ऑन ट्रेनिंग दी गई।इस दौरान सोलर –NOS कनेटी ईएसएससीआई के डायरेक्टर अप्लाइड मेटीरियल्स और चेयरमैव डॉ. अश्विनी अग्रवाल, सीनियर साइंटिस्ट डॉ. योगेश कुमार सिंह, ईएसएससीआई से अमन दुबे, मानव रचना इनोवेशन एंड इंक्यूबेशन सेंटर के डायरेक्टर डॉ. उमेश दत्ता और डिप्टी डायरेक्टर डॉ. अभिरुचि पासी मौजूद रहे।इस कार्यक्रम में बीएमएल मुंजाल यूनिवर्सिटी, चितकारा यूनिवर्सिटी, एमिटी यूनिवर्सिटी और आईईटीई, नोएडा सेंटर की भागीदारी रही। इलेक्ट्रॉनिक सेक्टर स्किल काउंसिल ऑफ इंडिया (ईएसएससीआई) की पहल के बाद मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज और उपरोक्त चार संस्थानों को सोलर सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की स्थापना के लिए अनुदान दिया गया है।मानव रचना में आयोजित यह प्रशिक्षण कार्यक्रम सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की प्रगति को गति देने के लिए उत्प्रेरक के रूप में कार्य करेगा और प्रशिक्षक को कुशल बनाने में मदद करेगा ताकि स्थानीय समुदाय के साथ-साथ सहयोगी संस्थानों के छात्रों के बीच और ज्ञान का प्रसार किया जा सके जिससे सौर ऊर्जा को बढ़ावा मिले। 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like