गरीबी के दलदल से यदि कोई सीढ़ी बाहर निकाल सकती है तो वह शिक्षा की सीढ़ी है:-प्रवेश मलिक

फरीदाबाद: 10 जुलाई, मिशन जागृति का अभियान शिक्षित भारत उन्नत भारत- संतोष अरोड़ा मिशन जागृति ने आज शिक्षित भारत उन्नत भारत अभियान के तहत कोरोना काल के बाद में पहली पाठशाला एनआईटी स्टेट्स दशहरा ग्राउंड के पीछे स्थित झुग्गियों में शुरू की जिसका उद्घाटन मिशन जागृति के जिला अध्यक्ष विवेक गौतम ने किया जिसमे उनका साथ दिया उपाध्यक्ष रूपा तिवारी एवम राजेश भूटिया ने । इस प्रोजेक्ट की संयोजिका संतोष अरोड़ा ने बताया कि इस स्लम एरिया में बहुत सारे ऐसे बच्चे हैं जो स्कूल जाना तो चाहते हैं परंतु जागरूकता की कमी के कारण वह नहीं जा पा रहे है। उन्होंने कहा कि मिशन जागृति के संस्थापक प्रवेश मलिक का कहना है कि गरीबी के दलदल से यदि कोई सीढ़ी बाहर निकाल सकती है तो वह शिक्षा की ही सीढ़ी है इसी बात को ध्यान में रखते हुए हमने यहां पर पाठशाला शुरू की है। उन्होंने बताया कि यहां पर लगभग 200 से ज्यादा बच्चे हैं जिनको शिक्षा की बहुत आवश्यकता है हालांकि उनमें से काफी बच्चे सरकारी स्कूल में भी जाते हैं परंतु फिर भी उनके ऊपर और अधिक ध्यान देने की जरूरत है। शिक्षा हम सभी के उज्जवल भविष्य के लिए एक बहुत ही सशक्त साधन है । शिक्षा का समय हम सभी के लिए व्यक्तिगत रूप से और सामाजिक रूप से बहुत ही महत्वपूर्ण है। विवेक गौतम ने कहा है कि इन्हीं बच्चों में से कल को हो सकता है कि कोई बड़ा अधिकारी बने कोई बड़ा डॉक्टर बने कोई पुलिस ऑफिसर बने या हो सकता है कि कोई एक बहुत ही अच्छा शिक्षक बने। हमारा बस यही प्रयास है इन बच्चों का भविष्य उज्जवल हो। शिक्षा से व्यक्ति के अंदर ज्ञान का प्रसार होता है और उसकी बुद्धि का विकास होता है। रुपा ने कहा कि हम स्वागत करते हैं ऐसे पढ़े-लिखे साथियों का जो कि अपने कीमती समय में से प्रत्येक सप्ताह एक घंटा यहां पर निकालकर इन बच्चों को पढ़ाने में मिशन जागृति की मदद करें। यदि आपके पास किताबें, स्कूल बैग, स्लेट, दरी, खिलौने , जो कुछ भी हो जो इन बच्चों के चेहरे पर खुशी ला सकते हैं वह कृपया यहां मिशन जागृति की पाठशाला में आकर दान करें। इसके लिए आप हमारी इस प्रोजेक्ट की संयोजिका संतोष अरोड़ा जी से संपर्क कर सकते है जिनका संपर्क नंबर है 7009557338 इस मौके पर अशोक भटेजा , गीता, विभा, वैभव, दिनेश राघव, आदि उपस्थित रहे ।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like