डीएवी शताब्दी महाविद्यालय में कवि सम्मेलन और हिंदी दिवस का आयोजन

फरीदाबाद: 15 सितंबर, हिंदी दिवस के अवसर पर हिंदी विभाग ने हिंदी सप्ताह के अंतर्गत कवि सम्मेलन का आयोजन किया।कार्यक्रम का शुभारंभ सरस्वती वंदना से की गई। आजादी का अमृत महोत्सव और कवि सम्मेलन का यह अनूठा संगम रहा। जिसमें अमृतमयी भाषा हिंदी के बढ़ावा देने पर बल दिया गया। इस कार्यक्रम में बाहर से आए हुए अतिथि कवियों में यशदीप कौशिक, कुलदीप बृजवासी, मोहित मनोहर जोशी और कवयित्री पल्लवी कृपाल त्रिपाठी ने श्रृंगार औरओजपूर्ण कविता से समा बांध दिया। यशदीप कौशिक ने हिंदी भाषा की सशक्त अभिव्यक्ति क्षमता का परिचय दिया।इस कार्यक्रम में डी ए वी कॉलेज के शिक्षकों ने अपने स्वरचित कविता पाठ से अपने प्रतिभा का प्रदर्शन किया।डॉ मुकेश बंसल,प्रोफेसर सुनीता डूडेजा, मीनाक्षी कौशिक, तनुजा मैम,रेखा शर्मा,और दिनेश चौधरी ने अपनी कविता सुनाकर सबको मंत्रमुग्ध कर दिया।

कॉलेज की प्राचार्य डॉ सविता भगत ने बताया कि हिंदी बहुतायत लोगों द्वारा बोली जाती है और यह राजकीय भाषा है लेकिन हमें सभी भाषाओं का आदर करना है नई भाषा चाहे जितनी भी सीख लें लेकिन हिंदी को नहीं भूलना है यह हमें हमारी परंपरा व संस्कृति से जोड़ती है। कार्यक्रम का आरंभ हिंदी विभाग की सहायक प्रोफेसर ममता ने किया एवं सहायक प्रोफेसर स्वेता वर्मा ने सभी अतिथियों शिक्षकगणों व विद्यार्थियों का धन्यवाद किया।कोरोना के समय में समस्त सुरक्षा व सावधानियों को ध्यान में रखते हुए इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया।जिसमें सभी विभागों के शिक्षक और विद्यार्थी शामिल थे ।प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी हिंदी दिवस बड़े उत्साह और उल्लास के साथ मनाया गया।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like