जिले के महाविद्यालयों के प्रधानाचार्यों के साथ एम.डी.यू. के कुलपति ने की चर्चा

फरीदाबाद: 19 दिसंबर, महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय, रोहतक के कुलपति, प्रो. राजबीर सिंह द्वारा जिले के महाविद्यालयों के प्रधानचार्यों को चर्चा के लिए आमंत्रित करवाया गया | इस चर्चा का आयोजन डी.ए.वी. शताब्दी महाविद्यालय,फरीदाबाद के आई.क्यू.ए.सी. हॉल में करवाया गया | इस चर्चा में क्षेत्र के विभिन्न महाविद्यालयों के प्रधानाचार्यों व् प्रतिनिधियों ने भाग लिया | इस चर्चा का उद्देश्य कोरोना काल के बाद बदलते शिक्षा स्वरूप और शिक्षण में आ रही समस्याओं को जानने का रहा | कुलपति जी ने प्रधानचार्यों से पूछा कि क्या आप सभी के कॉलेज में अभी भी ऑनलाइन मोड में ही क्लासेज दी जा रही हैं या ऑफलाइन मोड में | प्रधानाचार्यों ने बताया कि उन सभी के कॉलेज में सभी कक्षाएं ऑफलाइन मोड पर आ चुके हैं, स्टूडेंट्स ऑफलाइन मोड को लेकर काफी उत्साहित हैं और क्लासेज में आ रहे हैं | कुलपति जी ने बताया की विश्वविद्यालय के अंदर काफी चीजे ब्लेंडेड मोड में चल रही हैं यानि कुछ क्लासेज ऑनलाइन में और कुछ ऑफलाइन में, पर ये शिक्षकों और छात्रों सुविधा पर निर्भर करता है | उन्होंने यह भी कहा ही शिक्षण के लिए जो शड्यूल भेजा गया है उसका सही से पालन करें| सिलेबस शड्यूल के हिसाब से पूरा करवाएं क्यूंकि परीक्षायें निर्धारित समय पर ही होंगी, ये बात आप शिक्षकों व् छात्रों को बता दें | विश्वविद्यालय वो हर संभव मदद महाविद्यालयों को देने के लिए तैयार है, जो भी महाविद्यालय चाहते हैं | विश्वविद्यालय आने वाले समय में महाविद्यलयों से बात करेगा और नई शिक्षा नीति को लेकर कुछ चीजें जनवरी से नजर आनी शुरू हो जायेंगी | एन.ए.ए.सी. व् एन.आई.आर.अफ. रैकिंग को लेकर जो महाविद्यालय रैंकिंग करना चाहते हैं, उन सभी की रैंकिंग प्रक्रिया को लेकर जो मदद भी मदद महाविद्यालय चाहते हैं, विश्वविद्यालय उनकी मदद करने की कोशिश करेगा | विश्वविद्यालय और महाविद्यालयों के आपसी कार्य से जुड़े जो भी मुद्दे हैं, उन सभी का निवारण विश्वविद्यालय द्वारा ऑनलाइन मोड में ही सुचारु ढंग से किया जायेगा | ऑनलाइन मोड़ से सभी समस्याओं का निपटारा करने के साथ, उसके निपटारन का संदेश पहुंचाना भी सुनिश्चित किया जायेगा अंत में महाविद्यालय की प्रधानाचार्या डॉ. सविता भगत ने सभी उपस्थित अतिथियों का चर्चा में शामिल होने पर धन्यवाद् किया और कहा कि मुद्दे बहुत सारे थे और कुलपति महोदय जी ने हमारी उम्मीदों से ज्यादा उनका समाधान किया व् बताया | चर्चा में राजकीय पंडित जवाहरलाल नेहरू महाविद्यालय, फरीदाबाद से डॉ. नरेंद्र, राजकीय महिला महाविद्यालय, फरीदाबाद से डॉ. सुनिधि सिंह, गवर्नमेंट पी. जी. कालेज, तिगांव से डॉ. डॉ. संध्या सूद, राजकीय महाविद्यालय, मोहना से डॉ. शैलेश्वर कौशिक, एस. डी. कालेज, पलवल से डॉ. प्रतिभा सिंगला, के. एल. मेहता कालेज, फरीदाबाद से डॉ. मंजू दुग्गल आदि शामिल रहे |

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like