मानव रचना परिवार ने डॉ ओपी भल्ला को उनकी 9वीं स्मरण वर्षगांठ पर श्रद्धांजलि दी

मेगा ब्लड डोनेशन कैंप में 1038 यूनिट रक्त एकत्रित किया गया
विक्रम यादव, डीसी, फरीदाबाद ने मेगा रक्तदान शिविर का उद्घाटन किया
‘एक मुट्ठी दान’ के तहत 19500 किलो सूखा अनाज बांटा गया 

फरीदाबाद :16 सितंबर, 2022, पूरे मानव रचना परिवार ने आज मानव रचना परिसर में एक मेगा रक्तदान शिविर और एक मुट्ठी दान के माध्यम से संस्थापक दूरदर्शी डॉ. ओ. पी. भल्ला को उनकी नौवीं स्वर्गवास जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित की।  मानव रचना परिसर में डॉ ओ. पी. भल्ला मेमोरियल स्थल पर सुबह शांति के पवित्र परिवेश को जोड़ते हुए पुष्पांजलि और भजन के साथ दिन की शुरुआत हुई ।

डॉ. ओ.पी. भल्ला की प्रेममयी स्मृति में आयोजित मेगा रक्तदान शिविर के दौरान 1038 यूनिट रक्त का संग्रह किया गया है | डॉ. ओ.पी. भल्ला का दृष्टिकोण शहर और देश के स्वास्थ्य परिदृश्य को समग्र रूप से सुधारना था। डॉ. ओ पी भल्ला फाउंडेशन के तहत फरीदाबाद के लायंस क्लब, रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद (पूर्व, मध्य, गोल्फ खिलाड़ी, संस्कृति, अरावली); और समन्वय परिवार ट्रस्ट के सहयोग से  शिविर का आयोजन किया गया।

शिविर का उद्घाटन विक्रम यादव, डीसी, फरीदाबाद ने श्रीमती सत्य भल्ला, मुख्य संरक्षक, एमआरईआई; डॉ. प्रशांत भल्ला, अध्यक्ष, एमआरईआई; डॉ अमित भल्ला, वीपी, एमआरईआई; डॉ एन सी वाधवा, डीजी, एमआरईआई; डॉ. संजय श्रीवास्तव, एमडी, एमआरईआई, प्रो. (डॉ.) आई के भट, कुलपति, एमआरयू; लेफ्टिनेंट जनरल आर के आनंद, महानिदेशक, एमआरआईआईआरएस; ब्रिगेडियर विजय आनंद, निदेशक मानव संसाधन; डॉ. प्रदीप कुमार, पीवीसी, एमआरआईआईआरएस, आर के अरोड़ा – रजिस्ट्रार, एमआरआईआईआरएस; डॉ कामेश्वर सिंह – रजिस्ट्रार, एमआरयू और मानव रचना परिवार के अन्य वरिष्ठ गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति में किया।

सत्य भल्ला के साथ विक्रम यादव ने ‘एक मुट्ठी दान’ में भाग लिया, जिसमें 19500 किलोग्राम एकत्रित सूखा अनाज दिल्ली-एनसीआर के गैर सरकारी संगठनों और मानव रचना सपोर्ट स्टाफ के बीच वितरित किया गया। पूरे मानव रचना परिवार ने अनाज एकत्रित करने में अपना योगदान दिया।

इस नेक पहल की सराहना करते हुए, विक्रम यादव ने कहा, “मुझे यह देखकर खुशी हो रही है कि मानव रचना विभिन्न परियोजनाओं के माध्यम से समाज की सेवा करने के लिए समर्पित है, जो दयालु और ज़िम्मेदार नागरिक बनाने में एक आवश्यक भूमिका निभाते हैं।” उन्होंने मानव रचना को शिक्षा, खेल और सामुदायिक सेवा में उत्कृष्टता की अपनी यात्रा के 25 साल पूरे करने पर बधाई दी।

डॉ. प्रशांत भल्ला ने साझा किया, “रक्तदान शिविर जैसी पहलों के माध्यम से, हम अपने छात्रों और समाज में सामुदायिक सेवा की भावना पैदा करने का प्रयास करते हैं। एक मुट्ठी दान, सस्टेनेबिलिटी प्रोजेक्ट्स, टीकाकरण कैंप, हेल्थ कैंप, वोकेशनल स्किल एजुकेशन, टीचर ऑन कॉल प्रोजेक्ट कुछ ऐसी पहलें हैं जो हमारे संस्थापक दूरदर्शी, डॉ ओपी भल्ला के विजन और मिशन को आगे बढ़ाने में हमारी मदद करती हैं ताकि गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाएं सभी के लिए सुलभ हों।”

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like