सस्टेनेबल कम्युनिटी लिविंग पर वर्कशॉप का आयोजन

पर्यावरण बचाने के लिए आज से कार्य शुरू करें- डॉ. एनसी वधवा

सफलता की ओर ‘स्वच्छ स्कूल, स्वच्छ घर’ मिशन

20 साल के समर्थ खन्ना ने सेक्टर-15 में बनाया मिनी फॉरेस्ट

फरीदाबाद: 8 अक्टूबर,  मानव रचना शैक्षणिक संस्थान और नगर निगम फरीदाबाद के स्वच्छ स्कूल, स्वच्छ घर अभियान के अंतर्गत मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर-14 में सस्टेनेबल कम्यूनिटी लिविंग पर वर्कशॉप का आयोजन किया गया। इस दौरान पर्यावरण प्रेमियों ने अपना अनुभव साझा किया। कार्यक्रम में शामिल वे ऑफ लाइफ एनजीओ की फाउंडर सीए प्रियंका गर्ग ने कहा, कोरोना ने हमें सिखाया हमारी लिविंग कास्ट कम है लेकिन लाइफ स्टाइल कॉस्ट बहुत ज्यादा है। सस्टेनेबल लिविंग का मतलब हर किसी को एंपावर करना है।

20 साल के पर्यावरण विद समर्थ खन्ना ने बताया, उन्होंने बताया, जब वह स्कूल जाते थे तो देखते थे कि घर के पास एक खाली जमीन पर बहुत कूड़ा हो रहा है। उन्होंने उसे हटाने का कार्य शुरू किया और आज उस जगह पर मिनी फॉरेस्ट है। उस जमीन पर उन्होंने कंस्ट्रक्शन वेस्ट से पाथ भी बनाया है। इस मिनी फॉरेस्ट में लुप्त हो रहे पौधे लगाए हैं, इसके अलावा वहां हर मौसम में अलग-अलग पक्षी आते हैं।ईको क्लब की नीता गुप्ता, पल्लवी साचन, शालिनी अग्रवाल  और डॉ. कामना बक्शी की ओर से वर्कशॉप का आयोजन किया गया। इस वर्कशॉप में वेस्ट सेग्रेगेशन, अलग-अलग तरह के प्लास्टिक बैग्स की जानकारी, ईको ब्रिक के बारे में जानकारी दी गई।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like