खेल मंत्री संदीप सिंह इस्तीफा दे या खिलाड़ियों का कोटा बहाल करें: नवीन जयहिन्द

खिलाड़ियों के साथ गंदा खेल न खेले सरकार – नवीन जयहिन्द

हिसार – बीते शुक्रवार नवीन जयहिन्द मुगदर लेकर खेल कोटे में की गई कटौती के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे खिलाड़ियों का समर्थन करने हिसार पहुँचे। जयहिन्द ने खिलाड़ियों संग महावीर स्टेडियम से लघु सचिवालय हिसार तक पैदल मार्च निकाला व जिला उपायुक्त को ज्ञापन सौंपा और खेल कोटे में कई गयी कटौती को जल्द से जल्द बहाल करने की अपील की। कई बड़े खिलाड़ियों व आवार्ड विजेता कोच ने इस प्रदर्शन में हिस्सा लिया।
जयहिन्द ने इस फैसले को घटिया बताते हुए कहा कि यह खट्टर सरकार खिलाड़ियों के साथ गंदा खेल खेलना बन्द करे।हरियाणा खेल मंत्री संदीप सिंह को तो इस्तीफा देना चाहिए क्योंकि उन्होंने खेल कोटा खत्म करवाकर सबसे घटिया काम किया है खिलाड़ियों के साथ। साथ ही जयहिन्द ने बताया बड़ी हैरानी की बात तो यह है कि सरकार द्वारा लिए गए इस निर्णय का उपमुख्यमंत्री दुष्यंय चौटाला को पता तक नही चला। यह बहुत हैरानी जनक बात है। हम उपमुख्यमंत्री जी से भी अपील करते है कि वे मुख्यमंत्री जी से बातचीत करके खिलाड़ियों का कोटा बहाल करवाने का प्रयास करें।
जयहिन्द ने बताया कि हरियाणा के खिलाड़ी हरियाणा की शान व धरोहर है।हरियाणा को खेलो से ही दुनिया में जाना जाता है। हरियाणा के खिलाड़ियों ने हरियाणा को अंतरराष्ट्रीय स्तर तक पहुँचाने में अहम भूमिका निभाई है, जबकि हरियाणा सरकार ने ग्रुप A, B और C की सीधी भर्ती में खेल कोटे का आरक्षण (Haryana Sports Quota Reservation) खत्म कर दिया है इससे कई बड़े खिलाड़ी और आवार्ड विजेता कोच बहुत निराश हैं।
हरियाणा प्रदेश को देशभर में खेल फैक्ट्री के तौर पर देखा जाता है। हरियाणा के खिलाड़ियों ने ओलंपिक स्तर तक के खेलों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है। अब बेहतर तैयारी करने वाले खिलाड़ियों का भविष्य धूमिल हो गया है। जयहिन्द ने खेल कोटे के तहत भर्तियों में मिलने वाले खेल कोटे को फिर से बहाल करने की मांग की व कहा कि वे आज सड़क पर उतरने को इसलिए मजबूर हुए क्योंकि नवोदित खिलाड़ियों का उच्च पदों पर पहुँचने का रास्ता वर्तमान हरियाणा सरकार ने बंद कर दिया है।
जयहिन्द ने बताया मैं खुद एक राष्ट्रीय स्तर का खिलाड़ी रह चुका हूँ और मुझे पता है की एक खिलाड़ी संघर्ष करके अपने जीवन में कैसे वृद्धि कर पाता है। अगर हरियाणा से खिलाड़ी खत्म हुए तो हरियाणा बर्बाद हो जाएगा। हम पूरे हरियाणा में खिलाड़ियों के बीच जाएंगे। जयहिन्द ने सरकार से अपील करते हुए कहा की जो खिलाड़ियों के खेल कोटे में कटौती की गई है उसे सरकार तुरंत वापिस करे। इस दौरान पीयूष बूरा, हरपाल क्रांति, राजीव सरदाना, जयराम महला व अन्य मौजूद रहे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like