बाल भवन में हर सप्ताह किया जाएगा टीकाकरण शिविर का आयोजन: कमलेश शास्त्री

कोविड-19 टीकाकरण करवाने वाला नागरिक ही निभा सकता है देश के विकास में भागीदारी : पंकज सेतिया

फरीदाबाद, 30 दिसंबर : हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद, चंडीगढ़ की जिला शाखा फरीदाबाद एवं स्वास्थ्य विभाग के संयुक्त तत्वाधान में आज एनआईटी स्थित बाल भवन में निशुल्क कोविड-19 टीकाकरण शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें बडखल से उपमंडल अधिकारी (ना०) पंकज सेतिया ने बतौर मुख्य अतिथि तथा जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ मानसिंह ने विशिष्ट अतिथि के तौर पर शिरकत की। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला बाल कल्याण अधिकारी कमलेश शास्त्री के द्वारा की गई। टीकाकरण शिविर में पहुंचे मुख्य अतिथि उप मंडल अधिकारी (ना०) पंकज सेतिया का फूल मालाओं व पुष्प गुच्छ भेंट कर स्वागत किया गया। समाजसेवी आर पी हंस ने मुख्य अतिथि व विशिष्ट अतिथि को स्मृति चिन्ह उपहार स्वरूप भेंट किया।
उपमंडल अधिकारी (ना०) पंकज सेतिया ने कहा कि कोरोना जैसी महामारी को ध्यान में रखते हुए टीकाकरण करवाना बहुत आवश्यक है। उन्होंने कहा कि ओमीक्रोन के खतरे को देखते हुए जिला प्रशासन अलर्ट हो गया है। सरकार द्वारा दी गई हिदायतों का सख्ती से पालन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिन लोगों ने पूर्ण टीकाकरण नहीं करवाया है उन लोगों को सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों की पालना करते हुए 1 जनवरी से सार्वजनिक स्थानों पर जाने की इजाजत नहीं होगी। जिन लोगों ने कोरोना की दोनों डोज नहीं लगवाई है उनको मैरिज हॉल, होटल, बैंक, मॉल, सरकारी कार्यालय तथा सार्वजनिक स्थलों व बसों में जाने पर पूर्णतया पाबंदी लगाई जाएगी। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए ज्यादा से ज्यादा टीकाकरण करवाने का आग्रह किया।
इस अवसर पर जिला बाल कल्याण अधिकारी कमलेश शास्त्री ने कहा कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य ओमिक्रोन के बढ़ते मामलों को देखते हुए लोगों को सतर्क करना तथा टीकाकरण के बारे में लोगों को ज्यादा से ज्यादा जागरूक करना है। इस महामारी से बचाव केवल टीकाकरण के माध्यम से ही किया जा सकता है। पूर्णतः टीकाकरण करवाने वाला व्यक्ति ही अपने परिवार, समाज व देश को इस महामारी से बचा सकता है और एक जिम्मेदार नागरिक के रूप में देश की प्रगति में भागीदार बन सकता है। स्वास्थ्य विभाग की मदद से आज बाल भवन में लगभग डेढ़ सौ लोगों को टीकाकरण की पहली व दूसरी डोज लगाई गई है। टीकाकरण का आयोजन हर सप्ताह बाल भवन में करवाया जाएगा जिससे लोगों को ज्यादा से ज्यादा टीकाकरण करवाया जा सके।
इस अवसर पर बाल भवन के आजीवन सदस्य विंग कमांडर एच सी मान, जिला प्रशिक्षण अधिकारी जतिन, स्वास्थ्य विभाग से डॉक्टर मीनू व डॉक्टर विकास, बाल गृह की सुप्रिडेंट मीनू व बाल भवन का समस्त स्टाफ मौजूद रहा।ल से उपमंडल अधिकारी (ना०) पंकज सेतिया ने बतौर मुख्य अतिथि तथा जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ मानसिंह ने विशिष्ट अतिथि के तौर पर शिरकत की। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला बाल कल्याण अधिकारी कमलेश शास्त्री के द्वारा की गई। टीकाकरण शिविर में पहुंचे मुख्य अतिथि उप मंडल अधिकारी (ना०) पंकज सेतिया का फूल मालाओं व पुष्प गुच्छ भेंट कर स्वागत किया गया। समाजसेवी आर पी हंस ने मुख्य अतिथि व विशिष्ट अतिथि को स्मृति चिन्ह उपहार स्वरूप भेंट किया।
उपमंडल अधिकारी (ना०) पंकज सेतिया ने कहा कि कोरोना जैसी महामारी को ध्यान में रखते हुए टीकाकरण करवाना बहुत आवश्यक है। उन्होंने कहा कि ओमीक्रोन के खतरे को देखते हुए जिला प्रशासन अलर्ट हो गया है। सरकार द्वारा दी गई हिदायतों का सख्ती से पालन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिन लोगों ने पूर्ण टीकाकरण नहीं करवाया है उन लोगों को सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों की पालना करते हुए 1 जनवरी से सार्वजनिक स्थानों पर जाने की इजाजत नहीं होगी। जिन लोगों ने कोरोना की दोनों डोज नहीं लगवाई है उनको मैरिज हॉल, होटल, बैंक, मॉल, सरकारी कार्यालय तथा सार्वजनिक स्थलों व बसों में जाने पर पूर्णतया पाबंदी लगाई जाएगी। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए ज्यादा से ज्यादा टीकाकरण करवाने का आग्रह किया।
इस अवसर पर जिला बाल कल्याण अधिकारी कमलेश शास्त्री ने कहा कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य ओमिक्रोन के बढ़ते मामलों को देखते हुए लोगों को सतर्क करना तथा टीकाकरण के बारे में लोगों को ज्यादा से ज्यादा जागरूक करना है। इस महामारी से बचाव केवल टीकाकरण के माध्यम से ही किया जा सकता है। पूर्णतः टीकाकरण करवाने वाला व्यक्ति ही अपने परिवार, समाज व देश को इस महामारी से बचा सकता है और एक जिम्मेदार नागरिक के रूप में देश की प्रगति में भागीदार बन सकता है। स्वास्थ्य विभाग की मदद से आज बाल भवन में लगभग डेढ़ सौ लोगों को टीकाकरण की पहली व दूसरी डोज लगाई गई है। टीकाकरण का आयोजन हर सप्ताह बाल भवन में करवाया जाएगा जिससे लोगों को ज्यादा से ज्यादा टीकाकरण करवाया जा सके।
इस अवसर पर बाल भवन के आजीवन सदस्य विंग कमांडर एच सी मान, जिला प्रशिक्षण अधिकारी जतिन, स्वास्थ्य विभाग से डॉक्टर मीनू व डॉक्टर विकास, बाल गृह की सुप्रिडेंट मीनू व बाल भवन का समस्त स्टाफ मौजूद रहा

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like