डीएवी शताब्दी में सेंसर तकनीक और इसके अनुप्रयोगों में अंतर्दृष्टि विषय पर वेबीनार का आयोजन

फरीदाबाद: 28 जून, डीएवी शताब्दी महाविद्यालय फरीदाबाद में विज्ञान विभाग व गॉड एंड साइंस क्लब द्वारा रामगढ़िया एजुकेशन काउंसिल एंड इंस्टिट्यूशन, फगवाड़ा, पंजाब के  सहयोग से  “कोविड-19 संक्रमण के समय में सेंसर तकनीक और इसके अनुप्रयोगों में अंतर्दृष्टि “ विषय पर अंतरराष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन किया।वेबीनार की आयोजक सचिव सुजाता ने वेबीनार के मुख्य वक्ता डॉ श्वेता मल्होत्रा, शोधकर्ता ,यूनिवर्सिटी ऑफ विस्कंसिन, अमेरिका एवं गेस्ट ऑफ ऑनर इंजीनियर  भारती नाहर, एच ओ डी, इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग, रामगढ़िया एजुकेशनल काउंसिल एंड इंस्टिट्यूशन, फगवाड़ा का परिचय दिया । कार्यक्रम संयोजिका डॉ प्रिया कपूर ने विशिष्ट   वक्ताओं व सभी प्रतिभागियों का स्वागत किया। महाविद्यालय की कार्यवाहक प्राचार्य डॉ  सविता भगत ने सभी का स्वागत करते हुए कहा कि ऐसे वेबीनार होते रहने चाहिए. विज्ञान के क्षेत्र में हो रहे शोध आयोजन का ज्ञान छात्रों को देना बहुत आवश्यक है l
डॉक्टर श्वेता मल्होत्रा ने सरल भाषा में बताया कि सेंसर क्या होते हैं कितने प्रकार के होते हैं और यह कैसे कार्य करते हैं ।उन्होंने  सेंसर के अनुप्रयोगों को समझाते हुए बताया कि किस तरह इनका उपयोग आज के संक्रमण के दौर में हो रहा है।  उन्होंने समाज के हित में काम आने वाले शोधों पर कार्य करने के लिए सभी को प्रेरित किया। इंजीनियर भारती ने रोबोट तकनीक व कृत्रिम बुद्धिमता विषयों पर विस्तृत जानकारी दी।  अंत में आयोजक सचिव प्रिया गर्ग ने सभी वक्ताओं व प्रतिभागियों को इस वेबीनार का हिस्सा बनने पर उनका आभार व्यक्त किया।  विश्व के विभिन्न देशों जैसे श्रीलंका, पाकिस्तान, कुवैत के प्रतिभागियों ने जूम प्लेटफार्म एवं फेसबुक के माध्यम से इस वेबीनार का प्रसारण देखा है और जानकारी हासिल की। 
 इस वेबीनार में कार्यक्रम संयोजक डॉ प्रिया कपूर एवं डॉ अंकुर अग्रवाल के दिशा निर्देश में समस्त स्टाफ  ने योगदान दिया ।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like