महाराजा अग्रसेन जयंती ओर प्रतिभा सम्मान समारोह अवसर पर नूँह पहुँचे पूर्व उद्योग मंत्री विपुल गोयल। 

नूँह: 09 अक्टूबर,  अग्रवाल कार्यकारिणी समिति द्वारा पूर्व उद्योग मंत्री विपुल गोयल को महाराजा अग्रसेन जयंती ओर प्रतिभा सम्मान समारोह मे मुख्यातिथि के तौर पर आमंत्रित किया। अग्रसेन जयंती के अवसर पर अग्रवाल कार्यकारिणी समिति द्वारा वैश्य समाज से चयनित सरकारी ओर गैर सरकारी पदों पर बैठे प्रतिभाशाली लोगो को सम्मानित भी किया ।

इस कार्यक्रम मे बतौर मुख्यातिथि पहुँचे पूर्व मंत्री विपुल गोयल ने महाराजा अग्रसेन की प्रतिमा के सामने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम की शुरुआत की ओर महाराजा अग्रसेन को नमन करते हुए आयोजनकर्ताओं के साथ साथ सभी लोगों को महाराजा अग्रसेन जयंती की बधाई दी।

पूर्व मंत्री विपुल गोयल ने लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा की महाराजा अग्रसेन ने वैश्य समाज को तो एक नई दिशा देने का काम किया ही है ओर सर्व समाज् के लोगों के उत्थान मे भी महाराजा अग्रसेन ने अहम भूमिका निभाई है। इस अवसर पर पूर्व मंत्री ने महाराजा अग्रसेन के जीवन पर प्रकाश डालते हुए लोगों को बताया की महाराजा अग्रसेन पौराणिक कर्मयोगी होने के साथ- साथ तपस्वी एवं महादानी भी थे जिन्होंने बाल्यकाल से ही संघर्षों से जूझते हुए अपने आदर्श जीवन कर्म से, सकल मानव समाज को महानता का जीवन-पथ दर्शाया ओर देवताओं के लिए दी जाने वाली पशु बलि जैसी प्रथा को बंद कराने का अहम काम किया।

पूर्व मंत्री ने महाराजा अग्रसेन की तुलना केंद्र की माननीय मोदी- मनोहर सरकार से करते हुए कहा की आज भाजपा सरकार महाराजा अग्रसेन के सिद्धांतो पर चलने वाली सरकार है जो अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति को भी लाभान्वित करने के उद्देश्य से काम कर रही है। अग्रसेन जयंती के कार्यक्रम में पहुँचने पर समिति के लोगों ने पूर्व मंत्री विपुल गोयल का बतौर मुख्यातिथि फूल मालाओं से स्वागत किया ओर स्मृति चिन्ह भेंट करने के अलावा महाराजा अग्रसेन का प्रतिक रूप में पटका गले में पहनाकर स्वागत किया। इस अवसर पर पूर्व मंत्री ने सभी प्रतिभावान अग्रवाल बंधुओ को मोमेंटो देकर सम्मानित भी किया ओर भविष्य के लिए शुभकामनाये भी दी।

इस मौके पर भानी राम गुप्ता, नरेंद्र पटेल जिला अध्यक्ष नूह, फूल चंद सिंगला, जसवंत गोयल, रोहतास सिंगला, सूरजभान नांगल, यादराम गर्ग, नरेश चंद सिंगला, सुंदर लाल सिंगला, अमित सिंगला, सुधीर मंगला, महेश चंद जैन, सुनील गर्ग व समिति के लोगों के साथ साथ अन्य हजारों लोग उपस्थित थे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like