कोरोना के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए पुलिस आयुक्त ने अधिकारियों को कोरोना गाइडलाइंस का अनुकरण करवाने के सख्त निर्देश

फरीदाबाद:13 अप्रैल, पुलिस आयुक्त ओपी सिंह ने आज सेक्टर 21C स्थित अपने कार्यालय में सभी जोन के पुलिस उपायुक्त व सहायक पुलिस उपायुक्त के साथ आयोजित एक बैठक में कोरोना महामारी के संबंध में सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी का प्रकोप फिर से बढ़ रहा है। इसीलिए लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा रात्रि 9:00 बजे से सुबह 5:00 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू करने का फैसला लिया गया है। नाइट कर्फ्यू के दौरान अनावश्यक रूप से घूमने वाले लोगों पर रोक लगाई गई है ताकि संक्रमण को बढ़ने से रोका जा सके।

पुलिस अधिकारियों को निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि फरीदाबाद के ज्यादातर पुलिसकर्मी फील्ड में तैनात रहेंगे और बीट सिस्टम के माध्यम से अधिक से अधिक लोगों को कोरोना से बचने के उपायों के बारे में जागरूक करेंगे। कोरोना से बचने के लिए सावधानियां बरतना अति आवश्यक है। जब तक कोरोना टीकाकरण अभियान पूरा नहीं हो जाता तब तक मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग ही इससे बचने का एकमात्र उपाय है इसलिए अधिक से अधिक लोगों को इसके बारे में जागरूक किया जाए ताकि आमजन इन सावधानियों का उपयोग करके अपने आपको सुरक्षित रख सकें। स्वास्थ्य से संबंधित किसी भी प्रकार की परेशानी होने पर नागरिक तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें और उनकी सलाह के अनुरूप ही कार्य करें। साथ ही अपने नजदीकी डॉक्टर का फोन नंबर अपने पास रखें ताकि जरूरत पड़ने पर उनसे संपर्क किया जा सके। कोरोना गाइडलाइंस का पालन नहीं करने वाले व्यक्तियों के खिलाफ कानून के तहत सख्त कार्रवाई की जाएगी और मास्क न पहनने वाले व्यक्तियों के चालान काटे जाएंगे इसलिए आमजन नियमों का पालन करके अपनी जान के साथ-साथ होने वाले आर्थिक नुकसान से भी अपने आप को बचाएं।

भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में अधिक से अधिक पुलिसकर्मियों की तैनाती की जाएगी। सब्जी मंडी, बस स्टैंड, बाजार, मुख्य चौराहों और अन्य भीड़भाड़ वाले इलाकों में पुलिस द्वारा विशेष निगरानी रखी जाएगी ताकि वहां पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाया जा सके। इसके साथ ही अवैध नशा तस्करी पर रोक लगाने के निर्देश देते हुए पुलिस आयुक्त ने कहा कि अवैध रूप से नशे के धंधे में लिप्त लोगों के खिलाफ सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई की जाए।इसके साथ ही पुलिस अधिकारियों को अपराध पर रोक लगाने व कानून व्यवस्था से संबंधित दिशा निर्देश देते हुए बैठक का समापन किया गया।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like