बाल महोत्सव के माध्यम से बच्चों को एक मंच मुहैया कराने का सराहनीय कार्य कर रही है बाल कल्याण परिषद : मुकेश वशिष्ठ

फरीदाबाद: 19 अक्टूबर, बच्चे देश के भविष्य हैं बच्चों के सर्वांगीण विकास व उनकी काबिलियत को मंच देने के लिए व “स्वर्ण जयंती 2021” के अंतर्गत आजादी के अमृत महोत्सव को हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद, चंडीगढ़ के तत्वाधान में जिला शाखा फरीदाबाद द्वारा 18 से 22 अक्टूबर 2021 तक बाल महोत्सव के रूप में मनाया जा रहा है। कोरोना महामारी के दौरान जिन बच्चों को अपनी प्रस्तुति के लिए या अपनी प्रतिभाओं को सामने लाने में समस्याओं का सामना करना पड़ा परंतु इस बार जिला बाल कल्याण परिषद, फरीदाबाद ने बच्चों की प्रतिभा और हुनर को निखारने के लिए “बाल महोत्सव 2021” के माध्यम से मंच देने का कार्य किया है। जिससे बच्चों की काबिलियत को सामने लाने का कार्य किया जा रहा है। इसी कड़ी में आज बाल महोत्सव के दूसरे दिन मुख्यमंत्री के मीडिया कोऑर्डिनेटर मुकेश वशिष्ट ने कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। बाल महोत्सव के दूसरे दिन आज एकल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया जिसमें एकल नृत्य, बेस्ट ड्रामेबाज, स्केचिंग ऑन स्पॉट, हस्त लेखन हिंदी व अंग्रेजी आदि शामिल थे। आज की प्रतियोगिताओं में लगभग 100 स्कूलों के 250 बच्चों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। बच्चों ने मेरे सर पे बनटा टोकनी, तैन्ने न्यूं डुंघे पे राखू ओ नन्दी के वीरा, मत छेड़ बलम मेरे चूंदड़ न्य जैसे सुपरहिट हरयाणवी गानों पर अपनी प्रस्तुति पेश की जिसे सुनकर बैठे हुए दर्शक भी प्रतिभागी के साथ साथ झूमने लगे।


मुख्यातिथि मुकेश वशिष्ट ने अपने संबोधन में कहा कि कोरोना जैसी महामारी के बावजूद भी बच्चों के शारीरिक, मानसिक व सामाजिक विकास को जिला बाल कल्याण परिषद, फ़रीदाबाद के माध्यम से मंच देने का कार्य किया जा रहा है। बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना महामारी का समय लगभग खत्म होने के कगार पर है, अब घर बैठकर सोचने का समय नहीं, बल्कि कुछ करने का समय आ गया है। बच्चों के द्वारा जो प्रस्तुति पेश की गई है वो काबिले तारीफ है। उन्होंने जिला उपायुक्त महोदय जितेंद्र यादव व जिला बाल कल्याण अधिकारी कमलेश शास्त्री को बच्चों के हित के लिए उठाए गए इस कदम को काफी सराहा व प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान हरियाणा प्रदेश के लगभग 134 बच्चे अनाथ हुए जिनको गोद लेने का कार्य मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने किया और उनकी परवरिश व लालन-पालन का पूरा जिम्मा खुद मुख्यमंत्री ने संभाला है।
उन्होंने कहा कि राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं के लिए माननीय मुख्यमंत्री से फरीदाबाद जिले में कराने का आग्रह व पूरी कोशिश करूंगा कि अपने जिला फरीदाबाद में ही प्रदेश स्तर की प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाए। जिससे जिला बाल कल्याण परिषद, फरीदाबाद को प्रदेश स्तर के समारोह का आयोजन करने का मौका मिले।
इस मौके पर जिला बाल कल्याण परिषद के कार्यक्रम अधिकारी सुंदरलाल खत्री सीडब्ल्यूसी के चेयरमैन श्रीपाल कराना शिक्षा विभाग के नोडल ऑफीसर सुशील कनवा निर्णायक मंडल के सदस्य कवि देवेंद्र कुमार, डॉ स्वतंत्र प्रकाश शर्मा, डॉक्टर विशाल, आनंद भाटी, डॉ बलराम आर्य, ब्रजमोहन भारद्वाज, संजय मिश्रा, मनुस्मृति , सरला शर्मा अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

You cannot copy content of this page