अमृत महोत्सव से स्वर्णिम भारत अभियान के आगाज से होगा नया सवेरा

राजस्थान: 20 जनवरी, पीएम मोदी ने आजादी के अमृत महोत्सव से स्वर्णिम भारत की ओर विषय पर ब्रह्माकुमारीज संस्थान के आबू रोड स्थित शांतिवन में इस अभियान का वर्चुअल शुभारंभ किया..कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि इस अभियान से भारत में एक नए सवेरे का आगाज होगा…वीडियो कॉंफ्रेंसिंग के जरिए उन्होंने कार्यक्रम में हिस्सा लिया।


ब्रह्माकुमारीज संस्थान के सात प्रभागों द्वारा सात अभियानों को हरी झंडी दिखाई, इसके साथ ही उन्होंने संस्था की प्रशंसा करते हुए कहा कि ये संस्था केवल आध्यात्मिकता में ही आगे नहीं है बल्कि कई और क्षेत्र में भी अपनी अलग मिसाल कायम कर रही है..उन्होंने आगे कहा कि ये संस्था दूसरी आध्यात्मिक संस्थाओं के लिए प्रेरणा बनकर उबर रही है..उन्होंने कहा कि अमृत वेले का समय ज्ञान साधना का होता है, बर्बाद करने का नहीं.. इस अभियान से करोड़ो देश वासियों के लिए नया सवेरा आयेगा।

इस कार्यक्रम में पीएम मोदी के साथ लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, गुजरात के मुख्यमंत्री और सांस्कृतिक मंत्री जी किशन रेड्डी भी मौजूद रहे…अशोक गहलोत ने भी ब्रह्माकुमारीज की प्रशंसा करते हुए कहा कि ओम शांति के दो शब्दों से ही जिंदगी में तनाव दूर हो जाता है…उन्होंने दादियों के साथ अपने अनुभव को साझा किया.. जब भी मन में तनाव आये तो ओम शांति बोलने से मन का तनाव दूर हो जाता है।


समाचार एवं विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें 09818926364 या हमें ई-मेल करें [email protected]

इस मौके पर लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला ने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव पीएम मोदी की संकल्पना है…आपको बता दें कि आज इस अभियान के शुभारंभ के दौरान पीएम मोदी ने संस्था के सात अभियानों को हरी झंडी दिखाई…इन कार्यक्रमों में मेरा भारत स्वस्थ भारत, आत्मानिर्भर भारतरू आत्मनिर्भर किसान, ‘महिलाएंरू भारत की ध्वजवाहक’, अनदेखा भारत साइकिल रैली, एकजुट भारत मोटर बाइक अभियान और स्वच्छ भारत अभियान शामिल है… इस कार्यक्रम के दौरान ग्रैमी अवार्ड विजेता रिकी रेज की ओर से आजादी के अमृत महोत्सव को समर्पित एक गाना भी जारी किया गया… यह अभियान वर्ष भर चलेगा जिसमें तकरीबन 15 हजार कार्यक्रम से 10 करोड़ लोगों तक जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like